बुधवार, 26 नवंबर 2014

शादी की सालगिरह के शुभ अवसर पर

अच्छा था या बुरा
सही था या गलत
शिकायत थी या
फिर नही ,
इन सभी बातो से
बढ़कर जो बात थी
वो यह थी किं
जिन्दगी गुजर गई
हर हाल मे
अपनी साथ कही .

4 टिप्‍पणियां:

Digamber Naswa ने कहा…

जिंदगी अच्छी गुज़रे ... बस यही बात रह जाती है ..
साल गिरह की शुभ कामनाएं ...

मनोज कुमार ने कहा…

हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई!!

प्रतिभा सक्सेना ने कहा…

और सब तो चलता ही रहता है- चैन से गुज़रती जाए आगे भी बहुत दूर तक ,साथ-साथ चलते हुए !

इस्मत ज़ैदी ने कहा…

bahut bahut badhaai ho