शुक्रवार, 1 जनवरी 2010

एकता.....



ृदय उदार हो ,


सागर की थाह सा


गहरा भाव हो


मन में प्यार हो ,


शुद्ध अन्तः करण हो ,


उद्देश्य हो सभी का


परोपकार ,


रंजो -गम का कोई भी


स्वरुप हो साकार ,


ऐसे रिश्तें जीवन बांटे


मन में रख मलाल


एकता के इन भावो से


सारा जीवन हो खुशहाल

----------------------------------

सभी साथियों को नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाये ,

20 टिप्‍पणियां:

Apanatva ने कहा…

bahut pyaree rachana aur bade unhe bhav Badhai.
nav varsh aapake liye mangalmay ho isee hardik udgar ke sath.

अनामिका की सदाये...... ने कहा…

masoom aur pavitr si duao se bhari aapki rachna bahut khoobsurat hai..
aapko bhi nav varsh mubarak ho.

रचना दीक्षित ने कहा…

एक बधाई सन्देश मेरे ब्लॉग पर जाकिर अली रजनीश ने डाला था वही आपको भेज रही हूँ

नव वर्ष की अशेष कामनाएँ।
आपके सभी बिगड़े काम बन जाएँ।
आपके घर में हो इतना रूपया-पैसा,
रखने की जगह कम पड़े और हमारे घर आएँ।

राज भाटिय़ा ने कहा…

आप को ओर आप के परिवार को नववर्ष की बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाए

मनोज कुमार ने कहा…

बहुत अच्छा संदेश।
आपको नव वर्ष 2010 की हार्दिक शुभकामनाएं।

अजय कुमार झा ने कहा…

बहुत सुंदर रचना

इस नए साल पर आपको, आपके परिवार एवं ब्लोग परिवार के हर सदस्य को बहुत बहुत बधाई और शभकामनाएं । इश्वर करे इस वर्ष सबके सारे सपने पूरे हों और हमारा हिंदी ब्लोग जगत नई ऊंचाईयों को छुए ॥

अर्कजेश ने कहा…

नव वर्ष की शुभकामनाऍं ।

योगेश स्वप्न ने कहा…

nirmal bhavna, uspar shubhkaamna,wah wah.

Kishore Choudhary ने कहा…

ज्योति जी पिछले साल आपका लिखा हुआ पढ़ा कई बार मन आनंदित हुआ कि किस तरह आप सुंदर कविता के लिए अथक प्रयास करती रही. आपने लिखा भी और प्रशंसा भी पाई आज मैं आपके लिए कामना कर रहा हूँ कि इस नए साल में आप अति सुंदर कविताएं लिख पाएं और उनका मैं आनंद उठा सकूँ. शुभकामनाएं.

शमीम ने कहा…

Bahut Sundar vichar,Shubhkamnay...

बुझो तो जानें ने कहा…

Rachna Bahut achi lagi.Naye saal par ekta ka sandesh prastut karti kavita ke liye Apko Dhanyawad.

'अदा' ने कहा…

naye varsh ki shubhkaamna..

aur kithi acchi si baat kahti hain app..sach...!!

इस्मत ज़ैदी ने कहा…

bahut sundar vichar ,agar sab hi aisa sochen to jannat dharti par utar ayegi
badhai kavita ki
" naye sal ki

शोभना चौरे ने कहा…

bahut sundar sandes deti kavita .
badhai

RAJ SINH ने कहा…

आपकी दुआएं !
सारी दुनिया को लग जाएँ .

आमीन !

Ashish (Ashu) ने कहा…

एक बहुत प्यारी अभिव्यक्ति कम शब्दों में एक अच्छा बधाई सन्देश

ज्योति सिंह ने कहा…

aap sabhi ka tahe dil se shukriyaan ,

संजय भास्कर ने कहा…

एक बहुत प्यारी अभिव्यक्ति कम शब्दों में एक अच्छा बधाई सन्देश

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

ओंठों पर मधु-मुस्कान खिलाती शुभकामनाएँ!
नए वर्ष की नई सुबह में, महके हृदय तुम्हारा!
संयुक्ताक्षर "श्रृ" सही है या "शृ", FONT लिखने के 24 ढंग!
संपादक : "सरस पायस"

दिगम्बर नासवा ने कहा…

आमीन ......... सुंदर रचना है ........ आपको भी नव वर्ष मंगल हो .......